National

भोपाल : सरदार सरोवर के खिलाफ 30 लोगों ने मुंडन कराया

भोपाल, 14 सितंबर (आईएएनएस)| गुजरात में नर्मदा नदी पर बने सरदार सरोवर बांध से नुकसान उठाने वाले 40 हजार परिवारों की आवाज मध्यप्रदेश और केंद्र सरकार द्वारा न सुने जाने के विरोध में गुरुवार को आंदोलनकारियों ने राजधानी के नीलम पार्क में ‘चुनौती धरना’ दिया। इस धरने में 30 से ज्यादा लोगों ने मुंडन कराकर शिवराज सरकार की शवयात्रा निकाली। नर्मदा बचाओ आंदोलन का नेतृत्व करने वाली मेधा पाटकर का कहना है कि 17 सितंबर को प्रधानमंत्री अन्य प्रदेश के मुख्यमंत्रियों को ही नहीं, साधुओं को भी बुलाकर स्वयं के जन्मदिन पर जश्न मनाएंगे और मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री अपने ही किसानों, मजदूरों की आहुति देने वाले इस यज्ञ में शामिल होंगे।

नीलम पार्क में जमा हुए विस्थापितों के 30 प्रतिनिधियों ने अपना मुंडन कराकर दर्शाया कि शासन अब आम लोगों के लिए जिंदा नहीं है। उन्होंने राज्य सरकार की शवयात्रा निकाली गई।

आंदोलनकारियों के मुताबिक, ग्राम छोटा बड़दा में हजारों विस्थापित अपने समर्थकों के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और शिवराज सिंह शासन की नर्मदा के पानी, भूमि की लूट और उनके राजनीतिक स्वार्थ के लिए हजारों परिवारों को सरदार सरोवर में डुबाने की साजिश का शुक्रवार 15 सितंबर को विरोध करेंगे।

नर्मदा बचाओ आंदोलन ने सभी संवेदनशील, विचारशील नागरिकों इस आंदोलन से जुड़ने का आह्वान करते हुए कहा है कि घाटी के लोगों के लिए जिस भी तरीके से आंदोलन कर सकें, जरूर करें। यह लड़ाई कमजोर नहीं पड़नी चाहिए।

Leave a Reply