City NewsTop NewsUttar Pradesh

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए रेत माफिया के परिजनों से मिलने घर जाएंगे अखिलेश

झांसी। उत्तर प्रदेश के झांसी जिले में शनिवार रात मोठ कोतवाली के निरीक्षक पर गोली चलाने वाले रेत माफिया पुष्पेंद्र यादव को रविवार तड़के गुरसरांय के जंगल में पुलिस ने एक मुठभेड़ में मार गिराया। झांसी के पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) राहुल मिठास ने बताया, “शनिवार रात झांसी-कानपुर राजमार्ग में बम्हरौली गांव के पास गोली मार कर इंस्पेक्टर धर्मेंद्र सिंह चौहान को घायल करने और उनकी निजी कार लूट कर फरार होने वाला बालू माफिया गुरसरांय के जंगल में रविवार तड़के एक पुलिस मुठभेड़ मारा गया है।”

उन्होंने बताया, “सूचना मिली थी कि इंस्पेक्टर धर्मेंद्र सिंह चौहान का हमलावर गुरसरांय के जंगल में छिपा है। जैसे ही पुलिस ने उसकी घेराबंदी की, उसने पुलिस पर गोली चला दी। पुलिस द्वारा आत्मरक्षार्थ चलाई गई गोली लगने से उसकी मौत हो गई है।” एसपी ने बताया कि पोस्टमॉर्टम कराने के बाद शव उसके परिजनों को सौंप दिया गया है और उसके अंतिम संस्कार में तीन सीओ व सात थानों के पुलिस बल तैनात किए गए हैं।

पुष्पेंद्र यादव के परिजनों से मिलेंगे अखिलेश यादव

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव 9 अक्टूबर को झांसी एनकाउंटर में मारे गए पुष्पेंद्र यादव के परिजनों से मिलने झांसी के करगुआ खुर्द जाएंगे। सोमवार को समाजवादी पार्टी ने ट्वीट करके इसकी जानकारी दी। इससे पहले सपा ने झांसी पुलिस पर फर्जी एनकाउंटर करने का आरोप लगाया था। राज्यसभा सांसद डॉ. चंद्रपाल सिंह यादव ने भी मुठभेड़ पर सवाल उठाते हुए पुलिस पर हत्या की रिपोर्ट दर्ज किए जाने की मांग की है।

Leave a Reply