Top NewsUttar Pradesh

सड़क पर घायल अवस्था में पड़ी थी युवती, डीजीपी ने गाड़ी रोककर भिजवाया अस्पताल

लखनऊ। नए यातायात कानून को लेकर देश भर में कोहराम मचा हुआ है। इसलिए नहीं कि कानून खराब है, वल्कि इसलिए कि इस नए कानून में जुर्माने की रकम भारी-भरकम है। इसके बाद भी यातायात नियमों की धज्जियां उड़ाने वाले बाज नहीं आ रहे। ऐसे ही एक दोपहिया चालक द्वारा सड़क पर यातायात कानून की धज्जियां उड़ाना उसे महंगा पड़ा।

उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह रोज की तरह सोमवार सुबह घर से दफ्तर जा रहे थे। रास्ते में गोमती बंधा के पास उन्हें सड़क किनारे घायल अवस्था में पड़ी एक लड़की मिल गई। घायल लड़की को उन्होंने इलाज के लिए अस्पताल भिजवा दिया। वहां से डीजीपी की कार थोड़ी दूर आगे बढ़ी ही थी कि उन्हें मोटरसाइकिल पर सवार तीन युवक दिखाई दे गए, और किसी ने भी सिर पर हेलमेट नहीं लगाया हुआ था।

डीजीपी ने मोटरसाइकिल रुकवा ली। उन्होंने संबंधित अधिकारी को बुलाकर मौके पर ही उनका चालान कटवा दिया। पूछताछ में पता चला कि मोटरसाइकिल चला रहे चालक का नाम सलाउद्दीन था। सलाउद्दीन उजरियांव थाना गोमती नगर लखनऊ का ही रहने वाला था।

Leave a Reply