NationalTop News

श्रीहरिकोटा से आज लॉन्चिंग को तैयार चंद्रयान-2, लेकिन ये एक चीज़ बन रही सबसे बड़ा रोड़ा

नई दिल्ली। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन का दूसरा मून मिशन Chandrayaan-2 22 जुलाई को दोपहर 2।43 बजे रॉकेट GSLV-MK3 से लॉन्च किया जाएगा। 31 साल पहले इसी तारीख को हुई लॉन्चिंग पूरी तरह से सफल नहीं हो पाई थी। इसरो चीफ डॉ के सिवन ने कुछ महीने पहले बोला था कि अब इसरो हर साल 10 से 12 लॉन्चिंग करेगा। यानी हर महीने एक लॉन्चिंग होगी। श्रीहरिकोटा में बारिश हो रही है और ISRO आज चंद्रयान-2 को लॉन्च भी करेगा, ऐसे में बारिश लॉन्चिंग में खलल डाल सकती है। ये लॉन्चिंग दोपहर 2.43 मिनट पर होनी है। श्रीहरिकोटा में मौजूदा समय में काले बादल छाए हुए हैं।

उधर, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष के। सिवन ने लॉन्चिंग से पहले एक बड़ा बयान दिया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इसरो के अध्यक्ष के। सिवन ने कहा कि इस बार यह मिशन कामयाब रहेगा और मुझे उम्मीद है कि चंद्रयान 2 चंद्रमा पर कई नई चीजों की खोज करने में सफल होगा। यह अपने में एक सफलता होगी।

उन्होंने बातचीत के दौरान कहा कि मिशन की सफलता के लिए सभी जरूरी कदम उठाए गए हैं। पिछली बार लीकेज की वजह से लॉन्चिंग रद्द कर दी गई थी। इस बार पूरी तरह से तैयारी कर ली गई हैं। इस तकनीकी खराबी नहीं होगी। बता दें कि पिछली 15 जुलाई को रॉकेट जीएसएलवी-मार्क III-एम1 के जरिए मिशन चंद्रयान-2 की लॉन्चिंग से पहले मिशन को टाल दिया गया था। तकनीकी खराबी के चलते एक घंटे पहले काउनडाउन को रोक दिया गया था।

Leave a Reply