Uncategorized

आ गई ‘ऊबर’ की उड़ने वाली टैक्सी, लांचिंग का समय तय

नई दिल्ली।(द्वारकेश बर्मन) ऊबर की उड़ने वाली टैक्सी लंबे समय से लोगों के बीच कौतूहल का विषय बनी हुई थी और सुर्खियों बटोर रही थी। अब कंपनी ने पहली बार अपने उपभोक्ताओं को अंदर से अपनी एयर टैक्सी की झलक दिखाई है। साथ ही ऊबर ने घोषणा की है कि 2023 तक कंपनी लोगों के लिए अपनी एयर टैक्सी सर्विस शुरू कर देगी।

पहले ऊबर ने फ्लाइंग टैक्सी का प्रोटोटाइप डिजिटल डिजाइन शेयर किया था। मगर अब कंपनी ने उन एयरटैक्सी को दिखाया है, जिन्हें उड़ाया जाएगा। ऊबर ने वॉशिंगटन डीसी में चले रहे सालाना ‘ऊबर एलिवेट’ फ्लाइंग टैक्सी कॉन्फ्रेंस में इसे लोगों के सामने पेश किया है। ऊबर अगले साल फ्लाइंग टैक्सी की टेस्टिंग शुरू करेगा।

अंदर बैठने आएगा से हेलिकॉप्टर वाला फील

ऊबर एयर टैक्सी अंदर से काफी हद तक ट्रेडिशनल हेलिकॉप्टर की तरह ही है। इसका इंटीरियर फ्रांस की एयरोस्पेस कंपनी Safran ने डिजाइन किया है। इसमें चार यात्रियों के लिए जगह है।

ऊबर की एयर टैक्सी से आप बहुत कम समय में एक जगह से दूसरी जगह पहुंच जाएंगे, क्योंकि इसकी एक राइड 20 मिनट से ज्यादा समय की नहीं होगी। इस 20 मिनट में पिकअप से लेकर ड्रॉप तक शामिल है।

सस्ते भाड़े में उड़नतश्तरी की सवारी

अभी यह साफ नहीं है कि ऊबर की एयर टैक्सी से उड़ान भरने का कितना किराया लगेगा, लेकिन ऐसी उम्मीद है कि एयरटैक्सी की राइड ट्रेडिशनल हेलिकॉप्टर की राइड से सस्ती होगी।

इस एयरटैक्सी में बैठने वाले चारों यात्रियों के लिए कार की तरह अलग-अलग विंडो हैं। फोर्ब्स के मुताबिक, इसकी सीट्स पर अल्ट्रा लेदर का इस्तेमाल करके इन्हें स्लीक बनाया गया है, ताकि पैसेंजर आसानी से एयरटैक्सी में बैठ और उतर सकें। इसमें यात्रियों के सामान रखने की भी पर्याप्त जगह दी गई है।

फ्लाइंग टैक्सी के अंदर खास तरह की लाइटिंग है। जब यह उड़ान भरेगी, तब इसके अंदर ब्लू लाइट जलेगी और जब यात्री उतरने लगेंगे, तो फ्लाइंग टैक्सी के अंदर वाइट लाइट जलने लगेगी।

सबसे पहले इस देश में चालू होगी सेवा

ऊबर यह एयर टैक्सी सर्विस सबसे पहले टेक्सास के डलास में और लॉस एंजिल्स में शुरू करेगा। इसके बाद दूसरी जगहों पर यह सर्विस शुरू होगी।

भारत में भी ग्रैंड लांच की तैयारी 

ऊबर अपनी एयर टैक्सी सर्विस भारत में भी शुरू करने की तैयारी में है। इसके लिए कंपनी लगातार प्रयासरत है। ऊबर ने भारत में फ्लाइंग टैक्सी के वास्ते रेग्युलेटरी फ्रेमवर्क (एयर टैक्सी के लिए नियम-कायदे) के लिए केंद्र सरकार और एविएशन मिनिस्ट्री के साथ बातचीत शुरू कर दी है। ऊबर एलिवेट इवेंट के दौरान इसके प्रॉडक्ट हेड निखिल गोयल ने यह जानकारी भारतीय मीडिया के साथ साझा की है ।

Leave a Reply