Odd & WeirdOther News

रात में लाश को कभी अकेला मत छोड़ना, नहीं तो पड़ सकता है पछताना!

मृत्यु अटल होती है, लेकिन फिर भी इस संसार में कोई व्यक्ति मरना नहीं चाहता है। माना जाता है मृत्यु के बाद आत्मा अजर और अमर होती है। लेकिन अक्सर यह देखा गया है रात में यदि आपके घर में कोई व्यक्ति मर जाता है तो भी व्यक्ति उस लाश को अकेले नहीं छोड़ता है! क्या आप जानते हैं ऐसा क्यों किया जाता है।

आज हम आपको बताने जा रहे है कि किसी भी व्यक्ति की मौत होने के बाद उसकी लाश को क्यों नहीं छोड़ना चाहिए। हम सब जानते हैं मृत्यु के बाद किसी भी व्यक्ति का अंतिम संस्कार कभी भी रात में नहीं किया जाता है। अगर कोई व्यक्ति रात के समय में मर जाता है तो आप उसका अंतिम संस्कार रात में नहीं कर सकते है,और आप शमशान घाट नहीं जा सकते है।

हिन्दू समाज में यदि कोई व्यक्ति रात या शाम के समय मरता है तो सुबह होने का सभी इंतज़ार किया जाता है, और व्यक्ति शव को घर में ही रखते है। लेकिन अगर शव को घर में रखा हुआ है तो उसकी रखवाली भी करनी पड़ती है इसका कारण यह है की मरने के बाद शरीर खाली हो जाता है! और उस पर कोई भी बुरी आत्मा अपना कब्ज़ा कर सकती है! इसी कारण से शव के पास कुछ लोगो का होना जरुरी है।

शास्रो के अनुसार अगर किसी भी व्यक्ति की मौत शाम को हो जाती है तो उस व्यक्ति के शरीर को आदर के साथ तुलसी के पेंड के पास रखना चाहिए!क्यों कि उसकी आत्मा वन्ही पर ही भटकती रहती है! और आप सभी को देखती भी रहती है। इसीलिए शव को रात के वक़्त अकेला नहीं छोड़ना चाहिए।

Prarthana Srivastava

Leave a Reply