NationalTop Newsमुख्य समाचार

अस्पताल में भर्ती ‘रावण’ से मिलने पहुंची प्रियंका गांधी, मोदी को हराने की हुई नई गोपनीय तैयारी

भीम आर्मी के संस्थापक और उत्तर प्रदेश दलित नेता चंद्रशेखर आजाद ने लोकसभा चुनाव से पहले ही उत्तरप्रदेश की सियासत हिला डाली हैं। बुधवार को कांग्रेस की महासचिव और पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा ने चंद्रशेखर से मुलाक़ात की। चंद्रशेखर और प्रियंका की इस मुलाक़ात ने देश के राजनैतिक गालियारों में हलचल मचा दी हैं।
कहा जा रहा है कि चंद्रशेखर, आगामी लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का हाथ थामने जा रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ दलित नेता चंद्रशेखर के साथ कांग्रेस गठबंधन करने वाली हैं और हो सकता हैं की पार्टी उन्हें लोकसभा चुनाव का उम्मीदवार भी घोषित कर दें।

वहीँ चंद्रशेखर का कहना हैं कि वे लोकसभा चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ खड़े होंगे।। बुधवार को मेरठ जिले में उन्होंने कहा कि पहले तो वे अपने संगठन से कोई मजबूत उम्मीदवार उतारने का प्रयास करेंगे और उम्मीदवार न मिलने पर वे खुद पीएम मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे।
चंद्रशेखर ने 15 मार्च को दिल्ली में बहुजन हुंकार रैली की घोषणा भी की और कहां कि इसमें बड़ी तादाद में लोग हिस्सा लेंगे। उन्होंने स्पष्ट किया कि यह रैली बहुजन समाज के लिए है। साथ ही लोकसभा चुनाव में मायावती को पूर्ण समर्थन देने की बात भी कही। चंद्रशेखर ने अखिलेश यादव से पदोन्नति में आरक्षण के मुद्दे पर अपना रुख स्पष्ट करने के की मांग की और कहा सपा संरक्षक मुलायम सिंह अपने बयान से लोगों में भ्रम फैला रहे हैं।
रिपोर्ट-मानसी शुक्ला
Prarthana Srivastava

Leave a Reply