InternationalOdd & Weird

सरकारी खजाना भरने के लिए इमरान ने बेचीं शरीफ की 8 भैंसे, 23 लाख रु की हुई कमाई

नई दिल्ली। पड़ोसी देश पाकिस्तान को मदद देने पर अमेरिका पहले ही हाथ खड़े कर चुका है। अमेरिका भी जानता है कि पाकिस्तान उसकी दी हुई मदद का इस्तेमाल आतंकवाद के खात्मे के लिए कम, भारत के खिलाफ आतंकवाद को बढ़ावा देने में ज्यादा करता है। पाकिस्तान की माली हालत दिन ब दिन बिगड़ती जा रही है। हालात ये हो गए हैं कि पाकिस्तान को अपना सरकारी खजाना भरने के लिए भैसें तक बेचने को मजबूर होना पड़ा।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक़, प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा सेहत संबंधी दिक्कतों के लिए प्रधानमंत्री आवास में रखी आठ भैंसों की नीलामी हो गई है। इस नीलामी से इमरान सरकार को 23,02,000 रुपये मिले हैं। इन भैंसों को नवाज शरीफ के समर्थकों ने खरीदा है।

शरीफ के एक समर्थक काल्ब अली ने इनमें से एक भैंस 3,85,000 रुपये में खरीदी। अली ने कहा कि उन्होंने इस भैंस से भावनात्मक जुड़ाव के कारण उसकी नीलामी की कीमत 1,20,000 रुपये से तीन गुना बोली लगाई। अली ने कहा, ‘मैंने इस भैंस को नवाज शरीफ के प्रति अपने लगाव के कारण खरीदा है। मैं इसे नवाज शरीफ और बहन मरियम शरीफ के प्रतीक के तौर पर रखूंगा।’

बता दें कि इससे पहले इमरान खान ने प्रधानमंत्री आवास की 70 लग्जरी कारों को नीलाम कर दिया था। मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, इस नीलामी से पाकिस्तान सरकार को करीब 20 करोड़ रु मिले थे। पाकिस्‍तान सरकार नेजिन वाहनों की नीलामी की, उनमें 6 सुजुकी कारें, 5 मित्‍सुबिशी, 9 होंडा और 2 जीप भी शामिल हैं।