Monday , 5 December 2016

उपचुनावों में सत्ताधारी दल जीत की राह पर

Share on FacebookTweet about this on TwitterShare on Google+Share on LinkedIn
चार लोस सीटों 10 विस सीटों पर उपचुनाव, शहडोल लोस सीट, सत्तातधारी दल जीत की राह पर

vote counting in india

त्रिपुरा की दोनों विस सीटें सीपीएम ने जीती, शहडोल लोस सीट पर भाजपा आगे

नई दिल्ली। देश के छह राज्यों पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु, असम, अरुणाचल प्रदेश व त्रिपुरा और केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी की कुल चार लोकसभा सीटों और 10 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव के लिए मतगणना जारी है। ताजा रूझानों और परिणामों के मुताबिक सत्‍ताधारी दल जीत की राह पर हैं।

वैसे केंद्र सरकार द्वारा 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद किए जाने के बाद हुए इस चुनाव को सरकार के लिटमस टेस्‍ट के रूप में भी माना जा रहा था।

मतगणना के ताजा अपडेट्स:

महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव: कांग्रेस और बीजेपी ने दो-दो सीटें जीती, एनसीपी-शिवसेना को मिली एक-एक सीट।

मध्य प्रदेश: शहडोल लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार 10,800 वोटों से आगे।

पश्चिम बंगाल: कूच बिहार लोकसभा सीट पर तृणमूल कांग्रेस 53000 वोटों से आगे।

असम की लखीमपुर लोकसभा सीट से बीजेपी 24312 वोटों के साथ आगे, वहीं कांग्रेस 12484 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर।

मध्य प्रदेश: नेपानगर विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी उम्मीदवार 10,000 सीटों से आगे।

कांग्रेस ने पुडुचेरी के नेल्लीथोपे विधानसभा सीट पर जीत दर्ज की।

सीपीएम ने त्रिपुरा की बरजाला और खोवाई विधानसीटों पर जीत दर्ज की।

इन जगहों पर हुए थे उपचुनाव

पश्चिम बंगाल में कूच बिहार (आरक्षित अनुसूचित जाति) और तमलुक लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों और मोंटेश्वर विधानसभा सीट पर उपचुनाव हुए थे। यहां कूच बिहार संसदीय क्षेत्र में तृणमूल की रेणुका सिन्हा के निधन के बाद यह सीट खाली हो गई थी, जबकि तमलुक से सांसद सुवेंदू अधिकारी के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के मंत्रिमंडल में शामिल होने से यह सीट भी रिक्त हो गई थी। वहीं, तृणमूल के विधायक सजल पांजा के निधन के बाद मोंटेश्वर विधानसभा सीट खाली हुई थी।

असम में लखीमपुर लोकसभा सीट और बैथालांगसो विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव हुए थे। पहले लखीमपुर लोकसभा सीट पर असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने जीत दर्ज की थी, जबकि मानसिंग रोंगपी के 12 जुलाई को कांग्रेस से बीजेपी में शामिल होने के बाद बैठालांसो की सीट रिक्त हो गई थी।

शहडोल लोकसभा उपचुनाव भाजपा सांसद दलपति सिंह परस्ते के निधन के चलते हो रहा है, वहीं नेपानगर विधानसभा का उपचुनाव भाजपा विधायक राजेन्द्र दादू के निधन के बाद हो रहा है।

तमिलनाडु में तंजावुर, अर्वाकुरुचि ओर तिरुप्पराकुंद्रम विधानसभा सीट पर उपचुनाव हुए थे। राज्य विधानसभा चुनाव के दौरान राजनीतिक दलों द्वारा भारी मात्रा में नकदी और शराब बांटे जाने के आरोपों के बीच इन सीटों पर मतदान टाल दिए गए थे।

पुडुचेरी में भी नेल्लीथोपे विधानसभा क्षेत्र नेल्लीथोपे सीट से कांग्रेस नेता वी. नारायणसामी और एआईएडीएमके के ओम शक्ति सेगर आमने-सामने हैं। अरुणाचल प्रदेश में दूरस्थ अंजा जिले की हायुलियांग विधानसभा सीट पर उपचुनाव हुए। इस सीट पर नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (एनईडीए) की तरफ से दासंगलु पुल बीजेपी प्रत्याशी हैं।

राज्य के दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री कलिखो पुल की तीन में से सबसे छोटी पत्नी दासंगलु का मुकाबला निर्दलीय प्रत्याशी योम्पी क्री से है। कलिखो पुल ने इस साल अगस्त महीने में संदिग्ध परिस्थितियों में आत्महत्या कर ली थी।

त्रिपुरा की अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित बरजाला और खोवाई विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव हुए। यहां कांग्रेस में अंदरूनी फूट के चलते 6 जून को कांग्रेस विधायक जीतेंद्र सरकार के इस्तीफे के बाद बरजाला सीट और मार्क्‍सवादी कमुयनिस्ट पार्टी (सीपीएम) विधायक समीर देव सरकार के निधन के बाद खोवाई विधानसभा सीट खाली हुई थी।

About Diwakar Misra

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Time limit is exhausted. Please reload the CAPTCHA.

Free WordPress Themes - Download High-quality Templates